giridih usri falls jharkhand

उसरी फॉल गिरिडीह झारखण्ड, मानसून के बाद खिल उठता है ये टूरिस्ट स्पॉट

Usri Falls Giridih Jharkhand

ठण्ड का मौसम ! धुप खिली हुई थी। और मैं विज़िट कर रहा था उसरी जल प्रपात। पहाड़ों से घिरा है यह स्थान। बड़ी- बड़ी चट्टानें हैं। एक ओर हरे- भरे साल वृक्षों के जंगल भी हैं। एक प्रकृति प्रेमी के लिए सभी कुछ है यहाँ।

तो क्यों न आप भी इस मानसून के बाद आएं Usri Fall Giridih. तो चलिए जानते हैं उसरी फॉल की ख़ास बातें जो पर्यटक यहाँ खींचे चले आते हैं। कहाँ है उसरी? कैसे पहुंचे उसरी? कब आएं और कहाँ ठहरें।

कहाँ है उसरी फॉल? where is Usri Fall?

उसरी फॉल झारखण्ड के गिरिडीह जिला में है। यह जल प्रपात उसरी नदी पर है। उसरी नदी बराकर नदी की एक सहायक नदी है। पास में ही गांव है जिसका नाम है- गंगापुर।

क्या देखें उसरी फॉल झारखण्ड में?

यह स्थान चारों ओर से पारसनाथ पहाड़ियों की श्रृंखला से घिरा हुआ है। पानी ऊँची-ऊँची चट्टानों से गिरता है। इससे यहाँ की चट्टानें चिकनी हो गईं हैं। ऊपर से पानी गिरने के कारण, पानी दूध सा सफ़ेद दिखता है।

वॉच टावर से उसरी नदी और जंगल का दृश्य
वॉच टावर से उसरी नदी और जंगल का दृश्य

यहाँ पानी के पांच जलधाराएं हैं। जो इसे पांच छोटी- बड़ी वॉटरफॉल का रूप देती है। आप ऊपर झरना के पास भी जा सकते हैं। पर सावधान ! पत्थर चिकने हैं संभल कर जाएँ। ऊपर एक वाच टावर भी है जहाँ से आप पूरे नदी और जंगल का दृश्य देख सकते हैं।

स्वच्छ वातावरण, शांत माहौल और प्रकृति में कल- कल करता पानी का शोर। यही तो है Usri Waterfall Giridih की ख़ासियत। पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल और बिहार से कई पर्यटक यहाँ घूमने आते हैं। अब तो अन्य राज्यों से भी लोग यहाँ आने लगे हैं। गिरिडीह टूरिस्म सर्किट का यह एक पॉपुलर टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनता जा रहा है।

झरने के नीचे उसरी फॉल
झरने के नीचे उसरी फॉल

रास्ते में मुझे दिखे, झारखण्ड सरकार द्वारा लगाए गए कई बोर्ड । जो हमें आगाह करता है कि सावधानीपूर्वक यात्रा करें। यहाँ आपका सामना हाथियों से भी हो सकता है। पर इसमें घबराने की कोई बात नहीं है। क्योंकि हाथी किसी को हानि नहीं पहुंचते हैं। हाथी अपने रास्ते, आप अपने रास्ते।

उसरी फॉल के रास्ते में लगा बोर्ड
उसरी फॉल के रास्ते में लगा बोर्ड

कब जाएँ उसरी फॉल?

Best time to visit Usri Fall.

यूँ तो आप पूरे वर्ष कभी भी उसरी जल प्रपात घूमने जा सकते हैं। पर बारिश के दिनों में न जाएँ। क्योंकि नदी पानी से लबालब भरा होता है। चट्टानें चिकनी हो जातीं हैं। और पैर फिसलने से दुर्घटना होने की संभावना रहती है।

अतः आप मानसून के बाद जाएँ। यानि की अगस्त से मार्च का महीना उसरी भ्रमण के लिए बेस्ट है। पर्यटकों की संख्या भी बढ़ जाती है। दिसंबर और जनवरी में लोग यहाँ पिकनिक मनाने आते हैं। Usri Fall Giridih picnic spot के लिए भी जाना जाता है। और इस समय बहुत भीड़ होती है।

देखें उसरी फॉल गिरिडीह का यह ट्रेवल विडिओ

उसरी जल प्रपात कैसे पहुंचें?

How to go Usri Fall?

  • उसरी फॉल से सबसे नज़दीक रेलवे स्टेशन है गिरिडीह। और गिरिडीह से उसरी मात्र 13 KM है। उसरी धनबाद- टुंडी रोड पर है। आप गिरिडीह आएं। और यहाँ से ऑटो या टैक्सी बुक कर लें।
  • आसनसोल से उसरी वाया निरसा, गोबिंदपुर – 96 KM
  • दुर्गापुर से उसरी वाया निरसा, गोबिंदपुर – 135 KM
  • धनबाद से उसरी वाया निरसा, गोबिंदपुर – 54 KM
  • पारसनाथ से उसरी की दूरी – 49 KM
  • देवघर से उसरी की दूरी – 71 KM
  • मधुपुर से उसरी की दूरी – 48.9 KM
  • कोलकाता से उसरी की दूरी – 305 KM वाया NH- 19
उसरी फॉल की ओर
उसरी फॉल की ओर

कहाँ ठहरें?

ठहरने के लिए गिरिडीह बेस्ट है। यहाँ कई होटल्स, बजट होटल और लॉज़ उपलब्ध हैं। इसके अलावे आप मधुपुर में भी ठहर सकते हैं। यहाँ भी कई होटल्स, बजट होटल और लॉज़ उपलब्ध हैं।

कितना सेफ (safe) है उसरी?

उसरी बिलकुल safe है। वहां के ग्रामीण भी सहयोग करने को तत्पर रहते हैं। पर जैसा की मैंने पहले ही बताया, बारिश के मौसम में न जाएँ। क्योंकि पानी का स्तर बढ़ जाता है। और चट्टानों में फ़िसलन अधिक हो जाता है।

यहाँ ग्रामीण छोटे- छोटे दुकान भी करते हैं। जहाँ आपको झालमुड़ी, चिप्स, पानी का बोतल वैगरह मिल जायेगा।

यह भी पढ़ें: खंडोली गिरिडीह में एडवेंचर टूरिज्म

उम्मीद है आपको सारी जानकारी मिल गई है। फिर भी कुछ और जानना है तो Comment Box में comment करें। और ऐसी ही जानकारियों के लिए सब्सक्राइब कर लें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *