who founded Whatsapp

व्हाट्सएप्प के निर्माता ब्रायन ऐक्टन, कहानी एक संघर्ष की | Whatsapp founder in hindi

दोस्तों ! शायद ही ऐसा कोई स्मार्टफोन यूजर हो जो व्हाट्सएप्प प्रयोग न करता हो। मैसेज भेजना हो, फ़ोटो या विडिओ शेयर करना हो या फिर विडिओ कॉल करना हो। तभी तो यह पांचवीं सबसे अधिक डाउनलोड किया जाने वाला एप्प है।

तो ! चलिए जानते हैं Whatsapp के निर्माता के संघर्ष और सफलता की कहानी।

ब्रायन ऐक्टन और जान कॉम, दो दोस्त थे। इन्होंने ही व्हाट्सएप्प का निर्माण किया था। ये दोनों दोस्त अमेरिका से हैं और वे याहू Yahoo में नौकरी करते थे।

वे घूमने के बड़े शौक़ीन थे। फ़िर क्या था, 2007 में उन्होंने नौकरी छोड़ी और निकल पड़े दुनिया देखने। मतलब विश्व भ्रमण के लिए। पर आख़िर कब तक। उनकी जो बचत थी वो ख़त्म होने लगी।

उन्होंने फ़ेसबुक (Facebook) पर नौकरी के लिए आवेदन किया। पर हाथ लगी निराशा। उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया। और इसी असफ़लता से उन्होंने शुरुआत की एक नए सफ़र की। जी हाँ – व्हाट्सएप्प की।

ब्रायन और जान के संघर्ष की कहानी :

  • जान कौम ने जनवरी 2009 में एक आईफ़ोन ख़रीदा। और तुरंत ही एहसास किया कि एप्प डेवलपिंग इंडस्ट्री (App developing industry ) में बहुत संभावनाएं हैं।
  • पर यह आसान नहीं था। वे एक ऐसा एप्प बनाना चाहते थे जिसमें नाम के बगल में स्टेटस दिखे।

इसके लिए जान और ऐक्टन ने आई ओ एस डेवलपर (ios developer) अलेक्स फिशमैन से मुलाक़ात की। और अलेक्स ने उनकी मुलाक़ात इगोर सोलोमेनिकाव से कराई जो एक रूसी थे।

  • 24 फ़रवरी 2009 को कैलिफ़ोर्निया में, Whatsapp Inc. की स्थापना की।
  • उस वक़्त लगभग दो लाख पचास हज़ार सब्सक्राइबर इससे जुड़ चुके थे।
व्हाट्सएप्प का लोगो
  • ब्रायन ने अलेक्स को व्हाट्सएप्प का डेमो दिया पर अलेक्स संतुष्ट नहीं हुए। और उन्होंने उसे रिजेक्ट कर दिया।
  • समय के साथ व्हाट्सएप्प की लोकप्रियता बढ़ती ही जा रही थी। और फ़ेसबुक मैसेंजर को कड़ी टक्कर दे रही थी।
  • जिस फेसबुक कंपनी ने ब्रायन को रिजेक्ट किया था, उसी फ़ेसबुक ने 2014 में, 19 बिलियन डॉलर देकर, व्हाट्सप्प ख़रीद ली।

क्या आप जानते हैं ?

  • आज विश्वभर के लगभग 180 देशों में whatsapp मेसेजिंग एप्प लोकप्रियता की बुलंदियाँ छू रहा है।

मुझे उम्मीद है जान और ब्रायन की यह संघर्ष की कहानी आपको पसंद आई। अपना विचार ज़रूर दें।

यह भी पढ़ें इंटरनेट के बादशाह लर्री पेज, गूगल के निर्माता

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *