kami rita sherpa in hindi

Kami Rita Sherpa Kaun Hain जिन्होंने 26 बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ा?

पूरे विश्व की सबसे ऊँची चोटी- माउन्ट एवरेस्ट। इस पर फतह करना कोई आसान बात नहीं है। और वो भी माउंट एवरेस्ट विश्व रिकॉर्ड बनाना। ऐसे ही एक जुझारू व्यक्ति हैं। Kami Rita Sherpa Kaun Hain ? चलिए जानते हैं इस संघर्षशील, जुझारू व्यक्ति के बारे में। और उन्होंने क्या विश्व रिकॉर्ड बनाया।

माउंट एवरेस्ट विश्व रिकॉर्ड Mount Everest World Record

कामी रीता शेरपा ऐसे शख्स हैं। जिन्हें आज पूरी दुनिया माउंट एवरेस्ट पर फतेह करने के लिए जानती है। उन्होंने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर 26 बार चढ़ने का विश्व रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने अपना ही विश्व रिकॉर्ड को तोड़ा जो उन्होंने पिछले साल 25 बार माउंट एवरेस्ट फतह करने का रिकॉर्ड बनाया था।

पर्यटन विभाग काठमांडू के डायरेक्टर जनरल तारानाथ अधिकारी ने बताया।कामी रीता शेरपा ने माउंट एवरेस्ट को फतेह करने का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया। और 26वां बार माउंट एवरेस्ट चढ़ते हुए एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया।

माउंट एवरेस्ट फतह- कुछ तथ्य

  • आपको बता दें कि 1953 में एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नोर्गे पहली बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाले व्यक्ति थे।
  • जिस रास्ता को एडमंड हिलेरी और तेनजिंग नोर्गे ने तैयार किया था। उसी रास्ते के द्वारा कामी रीता ने यह विश्व रिकॉर्ड बनाया।
  • उनके साथ और 10 पर्वतारोही भी थे।
  • इस साल 2022 में 300 लोगों को माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने का परमिट issue किया गया था।
  • आपको यह जानकर हैरानी होगी की 1953 से अब तक माउंट एवरेस्ट पर 10,657 बार लोग चढ़ चुके हैं।
  • इस प्रयास के दौरान सभी पर्वतारोही सफल नहीं भी हुए हैं। उनमें से 311 लोगो ने अपनी जान भी गंवा दी है।

कामी रीता शेरपा कौन हैं ?

Kami Rita Sherpa एक नेपाली गाइड हैं। जो माउंट एवरेस्ट और हिमालय के अन्य शिखरों पर चढ़ने के लिए पर्वतारोहियों को गाइड करते हैं।

कामी रीता शेरपा जो कभी बौद्ध भिक्षु बनना चाहते थे उनका जन्म 17 जनवरी 1970 को हुआ था। उनका जन्म सोलुखुम्बू नामक गांव में हुआ था। यह गांव नेपाल के पहाड़ी इलाके में है।

तेनजिंग नोर्गे का नाम आपने सुना ही होगा। जिन्होंने एडमंड हिलेरी के साथ, पहली बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई कर, इस महान पर्वत को फतह किया था। तेनजिंग नोर्गे भी इसी गांव के निवासी थे।

एक समय था। जब कामी रिता शेरपा इस पहाड़ी गांव में, सिर्फ एक कमरे के घर में रहा करते थे। अपनी युवा समय में वे एक, बौद्ध भिक्षु बनना चाहते थे। इसलिए उन्होंने एक बौद्ध मोनास्ट्री भी ज्वाइन कर लिया था। पर समय के साथ उनका मन परिवर्तन हो गया। और वे गृहस्थ जीवन में लौट आए।

जब कामी 12 वर्ष के थे। तब वे माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप में, पर्वतारोहियों का सामान पहुंचाने का काम करने लगे। 1992 में वे एवरेस्ट के बेस कैंप में बावर्ची का काम भी करने लगे।

तभी उनके मन में एवरेस्ट फ़तह करने की इच्छा जागी। और 1994 में जब 24 साल के थे। तब पहली बार उन्होंने माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई की। और सफल भी हुए।

उसी समय से लगभग हर साल माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने लगे।

शेरपा कामी रीता क्या काम करते हैं?

अभी कामी रीता 52 साल के हैं। और अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ काठमांडू नेपाल में रहते हैं। उन्होंने अपने जीवन में भारी संघर्ष किया है। वे नहीं चाहते कि उनके बच्चे भी पर्वतारोहियों का गाइड बने। क्योंकि यह एक बहुत ही खतरनाक काम है। इसलिए वे चाहते हैं की उनके बच्चे पढ़ लिख कर। अच्छे कैरियर का चुनाव करें।

2018 के पहले वह एक अमेरिकन फर्म के लिए काम किया करते थे।

2019 से वे Seven Summit Treks में काम करते हैं। जो पर्वतारोहियों के लिए पर्वतारोही अभियान की व्यवस्था करती है। कामी रीता शेरपा नेपाल के एक सीमेंट कंपनी के ब्रांड एंबेसडर भी हैं।

वे Himalayan Glacier Adventure and Travel Company के Chief Adventure Consultant और ब्रांड एम्बेसडर भी हैं।

तो उम्मीद है दोस्तों ! Kami Rita Sherpa Kaun Hain ये जानकारी आप को मिल गयी। वे पर्वतारोहियों के एक पेशेवर गाइड हैं। तो इसे आप whatsapp, messenger, telegram या अन्य सोशल मीडिया के ज़रिये ज़रूर शेयर करें।

FAQ

यह भी पढ़ें: Adventure चाहिए, आइये Khandoli, Giridih, Jharkhand

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.